AD

Cricket News

Cricket Trending News

जब हैरी मेट सेजल मूवी रिव्यू

शाहरुख़ खान की फिल्म जब हैरी मेट सजल कल रिलीज़ हो गयी है| जब हैरी मेट सजल मूवी का रिव्यु पढ़े|

Saturday, 5 August 2017

/ by Ravi Chaubey
  • टाइम्स ऑफ़ इंडिया:3/5
  • हिंदुस्तान टाइम्स:2/5
  • नवभारत टाइम्स:2/5

फिल्म 'जब हैरी मेट सेजल' के एक सीन में सेजल ( अनुष्का शर्मा) हैरी (शाहरुख खान) से कहती है कि ढूंढने से तो भगवान भी मिल जाते हैं, लेकिन अफसोस कि इस फिल्म को बनाने से पहले किंग ऑफ रोमांस माने जाने वाले शाहरुख खान और रोमांटिक फिल्मों के बेहतरीन डायरेक्टर माने जाने वाले इम्तियाज अली एक अदद कसी हुई स्क्रिप्ट नहीं तलाश पाए। सगाई की अंगूठी तलाशने की एक कमजोर स्क्रिप्ट पर फिल्म करके पहले से ही अपने फिल्मी करियर के बुरे दौर से गुजर रहे शाहरुख ने फैन्स को निराश किया है। अगर आपने अब से करीब दो दशक पहले रिलीज हुई शाहरुख की जवानी के दिनों की फिल्म 'दिलवाले दुलहनिया ले जाएंगे' देखी है, तो 'जब हैरी मेट सेजल' देखते वक्त आपको उसकी कुछ झलक जरूर नजर आएगी। 
फोटो: बाए से दाए शाहरुख़ खान और अनुष्का शर्मा
'जब हैरी मेट सेजल' एक ऐसे लड़के हैरी की कहानी है, जो यूरोप में टूरिस्ट गाइड है। एक गुजराती ग्रुप को यूरोप घुमाने के बाद वह उन्हें एयरपोर्ट से विदा करके निकल ही रहा होता है कि उस ग्रुप में शामिल सेजल उसे बताती है कि उसकी सगाई की अंगूठी खो गई है, जिसके बिना उसका मंगेतर उसके साथ शादी नहीं करेगा। उसके बाद वह और हैरी दोबारा से उन्हीं देशों की यात्रा पर निकल पड़ते हैं, जहां-जहां हैरी उन्हें पिछले दिनों घुमाकर लाया था। अंगूठी की तलाश में एम्सटरडेम से शुरू हुआ उनका सफर बर्लिन , बुडपेस्ट होते हुए लिस्बन तक पहुंच जाता है। इसी बीच कुछ ऐसी घटनाएं होती हैं कि अपने टिपिकल टाइप मंगेतर के मुकाबले मस्तमौला हैरी के करीब आईं सेजल उसे चाहने लगती है। यहां तक कि उसे अंगूठी मिल भी जाती है, तब भी वह हैरी के साथ ज्यादा टाइम बिताने की चाहत में उसे सच नहीं बताती। आखिरकार सेजल हैरी को अंगूठी मिलने के बारे में बता देती है और इंडिया लौट आती है। सेजल के इंडिया लौटने के बाद हैरी को उसकी याद सताती है, तो वह भी उसकी शादी वाले दिन इंडिया पहुंच जाता है। लेकिन क्या हैरी को सेजल मिल पाती है? यह जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी। 
विडियो:जब हैरी मेट सजल का ट्रेलर
इम्तियाज अली को बेहतरीन रोमांटिक फिल्मों के लिए जाना जाता है, लेकिन 'जब हैरी मेट' सेजल में दर्शकों के लिए यह हजम कर पाना आसान नहीं होगा कि कोई अकेली लड़की एक अंगूठी की तलाश में बिना किसी फैमिली मेंबर के अकेले पूरे यूरोप का चक्कर लगाने को तैयार हो जाएगी और उसके बाद अंगूठी जिस तरह सेजल को मिलती है, वह भी बेहद बचकाना है। इंटरवल से पहले सिर्फ हैरी और सेजल को देश-देश अंगूठी की तलाश में घूमते देखना दर्शकों को बोर करता है। हालांकि, इम्तियाज ने फिल्म में कुछ मसाला सीन डाले हैं, लेकिन वे उतने मजेदार नहीं हैं। इंटरवल के बाद कहानी थोड़ी रफ्तार पकड़ती है, लेकिन आखिर में फिल्म का सपाट क्लाइमैक्स दर्शकों को फिर से निराश करता है।
फोटो: बाए से दाए शाहरुख़ खान और अनुष्का शर्मा
50 साल से ज्यादा उम्र में रोमांटिक फिल्में कर रहे शाहरुख खान को अब स्क्रिप्ट चुनते वक्त दूसरे खान सितारों की तरह सीरियस होने की जरूरत है। हालांकि, फिल्म में क्लीन शेव की बजाय हल्की दाढ़ी वाला लुक रखकर शाहरुख ने अपनी उम्र को मैनेज करने की पूरी कोशिश की है। फिल्म में पंजाब से ताल्लुक रखने वाले शाहरुख ने अपनी तरफ से रोमांटिक होने की पूरी कोशिश की है, तो कुछ सीन में वह बचकाना हरकतें करके दर्शकों को हंसाते भी हैं। यहां तक कि इस फिल्म में उन्होंने अनुष्का के साथ लिप टु लिप किस सीन करने से भी परहेज नहीं किया, जिससे वह आमतौर पर बचते हैं, लेकिन फिर भी बात बनी नहीं। 
फोटो: दाए से बाए शाहरुख़ खान और अनुष्का शर्मा
एक गुजराती लड़की के रोल में अनुष्का शर्मा ने अच्छी कोशिश की है, लेकिन वह उतनी ज्यादा जमी नहीं हैं। खासकर उनकी बचकाना हरकतें कभी दर्शकों को हंसाती हैं, तो कभी बोर करती हैं। वहीं फिल्म में गाने भी इतने ज्यादा हैं कि हर 10-15 मिनट में जैसे ही फिल्म रफ्तार पकड़ती है, तो कोई गाना आ जाता है। फिल्म के 'राधा' और 'फुर्र' जैसे कुछ गाने अच्छे लगते हैं, लेकिन इम्तियाज चाहते, तो कुछ गानों और फिल्म को थोड़ा एडिट करके इसकी लंबाई कम कर सकते थे। हालांकि, थिअटर में शाहरुख और अनुष्का को देखकर आप भले ही निराश हो जाएं, लेकिन यूरोप के बेहतरीन लोकेशन पर शूट की गई फिल्म की सिनेमटॉग्रफी आपको निराश नहीं करेगी और हैरी और सेजल के साथ आप भी यूरोप घूम आएंगे।

सूत्र:नवभारत टाइम्स

No comments

Post a Comment

Don't Miss
© 2017 All Rights Reserved
Made With By Infrolic